ignca recruitment

किसी को सांस लेने में परेशानी, किसी को बुखार, कईयों को थकान, कुछ मरीजों को स्ट्रोक तो कुछ को दिल से संबंधित परेशानी थी। इसमें से करीब 70 फीसद मरीजों को फेफड़े में परेशानी थी। इस वजह से उन्हें सांस लेने में परेशानी हो रही थी। इस वजह से उन्हें ऑक्सीजन देना पड़ा। अन्य 30 फीसद मरीजों में थकान, बुखार, स्ट्रोक, कुछ मरीजों के पैर की नसों में खून थक्का होने की समस्या देखी गई। इनमें से कई मरीज अब भी अस्पताल में भर्ती हैं।
कोलकाता,आइएएनएस।सीबीआईनेअबपश्चिमबंगालस्कूलसेवाआयोगभर्तीघोटाले(WBSSCRecruitmentScam)मेंमनीट्रेल(धनकेहेरफेर)कापतालगानेकेलि